mi kis desh ki company hai

Mi kis desh ki company hai, शाओमी history

Xiaomi introduction

सबसे पहले ये जान लेते है की ये कहाँ की कंपनी है. Mi kis desh ki company hai- China. ये बीजिंग बेस्ड स्मार्टफोन मेकर है. Xiaomi स्थापना 10 April 2010 को हुई थी. Xiaomi के founder और CEO Lei Jun है. Xiaomi को Mi के नाम से भी जाना जाता है.

Smartphone market में, ये कंपनी मात्र 5 सालों में एक startup से global player बन चुकी है. इस मार्किट के बड़े-बड़े analysts इसको Apple से compare करते है. इसकी खास बात ये है की ये high-end और low-end दोनों तरह के प्रोडक्ट्स बनती है. 2015 के आस-पास तक ये कंपनी सिर्फ एशिया में थी लेकिन अब ये ग्लोबल बन चुकी है.

Micromax In Note 1 review

One of the first smartphone of Xiaomi

अगर इसके कुछ operations की बात की जाये तो ये, invest करती है- स्मार्टफोन्स, mobile apps, लैपटॉप्स, होम appliances, बैग्स, shoes, smart band और बहुत कुछ. Xiaomi दुनिया चौथी ऐसी कंपनी है जिसने खुद से SOC(system on Chip) बनाया है Apple, Samsung और Huawei के बाद.

भारत में तो ये कंपनी No 1 smartphone brand का दर्जा हासिल कर चुकी है. हमने शुरुवात में ही जान लिया की- Mi kis desh ki company hai. अब हमलोग इसके इतिहास के बारे में जानने की कोसिस करते है.

Mi का इतिहास

2010

हम सभी को मालूम है की Xiaomi की शुरुवात 10 April 2010 को हुई थी. लेकिन इसने अपना पहला प्रोडक्ट(smartphone) August 2011 को लांच किया था, जिसका नाम था Xiaomi Mi, और बहुत जल्दी इस कंपनी ने चीन में इतना market share बढ़ा लिया की ये चीन की Largest smartphone company बन गयी 2014 में.

Xiaomi ने 16 August 2010 अपना पहला Android based firmware को लांच किया था जिसका नाम है MIUI, Xiaomi के हर स्मार्टफोन में आपको यही firmware मिलेगा, सिर्फ कुछ models को छोड़.

Vivo kis desh ki company hai?

2018 के second quarter के शुरुवात में Xiaomi चीन और इंडिया में चौथी सबसे बड़ी smartphone मैन्युफैक्चरर थी. भारत और चीन दुनिया सबसे बड़े बाज़ारों में से एक है. ये कंपनी दुनिया चौथी most valueable कंपनी है जिसका टोटल valuation $46 billion से भी जय्दा है.

2014 में इस कंपनी ने पहली बार global expansion के बारे में सोचा, और इस बात को आगे बढ़ाते हुए Xiaomi ने अपना पहला international headquarter, Singapore में खोला। इसी trend को आगे बढ़ाते हुए company ने Malayasia, Philippines और India में भी अपने office खोले।

March 2014, में कंपनी ने ऑस्ट्रेलिया में xiaomi.com.au से अपने प्रोडक्ट्स को ऑनलाइन बेचना शुरू किया Australia में, लेकिन कुछ समय में कंपनी ने अपने ऑनलाइन स्टोर को बंद कर दिया।

आज आप Xiaomi के products देखने के लिए mi.com पर जाते है, उसे Xiaomi ने April 2014 में record US$ 3.6 million में ख़रीदा था, चीन में ये अब तक का सबसे बड़ा domain buy था. mi.com ने xiaomi.com को replace किया था.

तो ये xiaomi के इतिहास के बारे में कुछ बातें थीं, अब हम इस कंपनी के बिज़नेस मॉडल के बारे में जानने की कोसिस करते है.

Xiaomi बिज़नेस मॉडल

कंपनी के CEO Lei Jun का कहना है की, Xiaomi अपने products के प्राइस, product बनाने के खर्च के बराबर ही रखती है, quality और performace पर कोई असर नहीं पड़ता। ये कंपनी सिर्फ स्मार्टफोन बेचकर ही profit नहीं कमाती और भी दूसरे प्रोडक्ट्स है, जो ये कंपनी बेचती है जैसे की- phone-related peripheral devices, smart home products, apps, online videos और themes.

ये कंपनी अपने hardaware को बेचकर अपने softwares को डिस्ट्रीब्यूट करती है, इन software की मदद से कंपनी users के data और information collect करती है, और collect किये हुए डाटा के आधार पर प्रोडक्ट्स और सर्विसेज बनती है और साथ में data के साथ डील भी करती, और इसी से सबसे ज्यादा पैसे कमाती है.

आज के समय में जिसके पास data है, वो किंग है. इसी बात के कारण कुछ समय पहले 200+ chineese applications को भारत सरकार ने ban किया था, और ban जारी भी. आपमें में जायदातर लोग chineese smartphone ही use करते है, use करने के दौरान आपको अपने फ़ोन में ads jarur दिखाई देते होंगे। Collect किये हुए डाटा को वो marketing के लिए use करते है. तो शायद आपको इन chineese कंपनियों का खेल समझ आ गया होगा, जितना हो सके इन companies से दूर रहे. ये hardware company से जय्दा software कंपनी है.

लेकिन कुछ data के आधार पर ये कंपनी अपनी जय्दातर profit smartphone sales से ही कमाती है. लेकिन ये बात ध्यान में रखे की Data को मेनुपुलेट किया जा सकता है.

ये बात बिलकुल सच है की इसके smartphones काफी affordable होते है, काम प्राइस को maintain करने के लिए Xiaomi अपने प्रोडक्ट्स को online ज्यादा बेचती है, इससे company बहुत ज्यादा margin बचा लेती है.

इस पोस्ट में हमलोगो ने जाना की, Mi kis desh ki company hai, इसके business model और इसके इतिहास के बारे में. उम्मीद है की आप लोगो को ये जानकरी अच्छी लगी. प्लीज इसे जरूर शेयर करे क्युकी इसमें काफी important इनफार्मेशन देने की कोसिस की है.

हमारे telegram चैनल को जरूर ज्वाइन करे- टेलीग्राम लिंक

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *